गाँव का इतिहास

इस गाँव के 2 नाम जेठ पूर व तैमूरपूर हैं| इस गाँव में सबसे पहले सूडाना गाँव से प्रभु और सोदागर व कहानोर से रामजीलाल का परिवार आकर बसा| इससे पहले यहाँ पर मुसलमान बसते थे| More »

पंचायत का इतिहास

प्रथम सरपंच मुकंद लाल व नम्रदार रहा| इस से पहले गड़ी और (जेठपूर) तैमूरपूर की सांझा पंचायत चुनी जाती थी| गाँव की पंचायत की स्थापना को 35-40 साल हो चुके है| More »

 

तैमूरपूर ग्राम पंचायत

Map of Haryana in school

इस गाँव के 2 नाम जेठ पूर व तैमूरपूर हैं| इस गाँव में सबसे पहले सूडाना गाँव से प्रभु और सोदागर व कहानोर से रामजीलाल का परिवार आकर बसा| इससे पहले यहाँ पर मुसलमान बसते थे| सरकारी कागजो में गाँव का नाम तैमुरपुर ही चलता है| धीरे धीरे पंजाबी व गुज्जर जुगलाल परिवार आ कर बस गये| गाँव में लोग सादा जीवन व्यतीत करते है|